ज्योतिष संबंधी विश्वासघातों से बचने के लिए आपलोग डॉक्टरों की तरह ही ज्योतिषियों को भी परखिए ! ऐसे -

Dr. S. N.Vajpayee ,M.A.Ph.D
 
आप के साथज्योतिषसंबंधी कुछ जरूरी बातें - 
  बंधुओ !यदि आपको ज्योतिष संबंधी आवश्यकता है तो कंजूसी मत कीजिए क्वालिटी पकड़िए !क्वालिटी से समझौता करने का मतलब है आप स्वयं अपने और अपनों के पैरों में कुल्हाड़ी मार रहे हैं । अनपढ़ लोगों से भविष्य पूछ लेते हैं परिणाम यह होता है कि खराब कर बैठते  हैं अपनी और अपने बेटा बेटी बहुओं की जिंदगी !बाद में वे हमारे पास आए भी तो हम कितनी मदद कर सकते हैं तब तक केस बिगड़ चुका होता है अब किसी ने अपने कंजूस स्वभाव के कारण किसी पंडित पुजारी टाइप के कम पढ़े लिखे व्यक्ति से पूछकर विवाह कर लिया हो एक दो बच्चे भी हो गए हों तब  उनके आपसी संबंध बिगड़ने भी लगे हों ऐसे समय वो हैरान परेशान लोग हमारे पास आवें भी तो आप सोचिए हम मदद करना चाहते हुए भी शादी को रिवर्स तो नहीं कर सकते !ऐसी परिस्थिति में उन्हें वहाँ ही व्यवस्थित करने की कोशिश करनी पड़ेगी !जो धन अपने बच्चों के काम  न आया वो किस काम का !
      कुल मिलाकर बंधुओ आप जिन्हें ज्योतिषी मान बैठे हैं प्रायः वे ज्योतिषी नहीं अपितु व्यापारी हैं ! आप स्वयं सोचिए कि जिसने जो चीज पढ़ी ही नहीं होगी वो उस विषय का विद्वान् कैसे हो जाएगा !ज्योतिष इतनी आसान नहीं कि कोई चलते फिरते पढ़ जाए !ये वेदों का नेत्र है आप सावधानी बरतें ज्योतिष के संबंध में -
    हमारे विषय में भी जानिए और लोगों को भी पहचानिए !जो लोग ज्योतिष पढ़े होंगे वे अपनी अपनी मूर्खता छिपाने  के लिए जब अपने विषय में "गुरूजी' आदि लिखते हैं आशीर्वाद देते हुए फोटो डालते हैं तो प्रोफाइल में लिखेंगे तो सही की किस वर्ष में किस विश्व विद्यालय से ज्योतिष की कौन सी डिग्री हासिल की है किंतु ऐसा न होने का कारण उन्होंने ज्योतिष पढ़ी ही नहीं है केवल आपकी सिधाई का नाजायज फायदा उठा रहे हैं या फिर धोखा दे रहे हैं । ऐसे अनपढ़ लोगों को ज्योतिष के क्षेत्र से स्वयं हट जाना चाहिए यदि वो ऐसा करते हैं तो ठीक अन्यथा समाज को ऐसे लोगों का बहिष्कार स्वयं कर देना चाहिए !ज्ञान के अभाव में अयोग्य लोग तरह तरह की वेष  भूषा बनाकर समाज को ठग रहे हैं !बच्चे पैदा करने के लिए बाबा बलात्कार कर रहे हैं इसके लिए क्या केवल बाबा दोषी हैं आखिर वो भी तो दोषी हैं जिन्होंने उसकी क्वालीफिकेशन देखे बिना उस पर भरोसा कर लिया !आप याद रखना कि डिग्रीहोल्डर ज्योतिषी न कभी फ्रॉड निकले और न ही किसी बलात्कार में ही सम्मिलित पकड़े गए !इसलिए समाज को अब भी जागना चाहिए और ज्योतिष में भी कंजूसी छोड़कर क्वालिटी पर ध्यान देना चाहिए !
   हमारे यहाँ से ज्योतिष सेवा लेने का नियम:-


सबसे पहले हमारी ज्योतिष संबंधी क्वालीफिकेशन देखिए हमारी डिग्रियाँ देखिए डिग्रियों को देने वाला विश्व विद्यालय देखिए see more....   http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/p/blog-page_7811.html  यदि शंका लगे तो RTI  डालकर हमारी ज्योतिषशिक्षा संबंधी सच्चाई जान  लीजिए !यदि आपको ठीक लगे तो ज्योतिष से सम्बंधित काम के लिए हमसे संपर्क कीजिए !हमारे यहाँ ज्योतिष संबंधी प्रश्नों के उत्तर से लेकर उनके उपाय बताने तक के लिए केवल 1100 फीस लीजाती है इसके अलावा हमारेयहाँ आपका कोई खर्च नहीं होता है ! 
   आपको ज्योतिष संबंधी सेवाएँ प्रदान करने में जो खर्च आता है हमने  केवल उतनी ही फीस रखी है !इसमें अधिक से अधिक गुंजाइस करके ही ऐसा किया गया है ।
     आपकी कुंडली बनाने और देखने का उचित पारिश्रमिक देकर आप ज्योतिष संबंधी तमाम  पाखंडों से बच सकते हैं ।बहनों बहुओं बेटियों के साथ कुछ बलात्कारी बाबाओं के द्वारा किए गए विश्वासघात से बचाने के लिए एवं विश्व के सभी क्षेत्रों में रहने वाले लोगों तक प्रमाणित एवं ईमानदार ज्योतिष सेवाएँ पहुँचाने के लिए फोन एवं इंटरनेट पर भी ज्योतिष सेवाएँ प्रदान की जा रही हैं ।
 उपाय -  हमारे यहाँ उपाय बताने का अलग से कोई चार्ज नहीं किया जाता कोई नग नगीना यंत्र तंत्र ताबीज नहीं बेचे जाते और न ही उपायों के नाम पर कौवे कुत्ते चीटी चमगादड़ों को खिलाना पिलाना या हल्दी कोयला नीबू उड़द बाजरा जैसी चीजें नदी नालों में फेंकते बहाते घूमना होता है !हम विशुद्ध वैज्ञानिक दृष्टि से ही ज्योतिष सेवाएँ उपलब्ध करवाने पर विश्वास रखते हैं !इसलिए -  

      ज्योतिषसंबंधी प्रत्येक प्रश्न ,या जन्मपत्री दिखाकर या डेट आफ बर्थ देकर साथ ही Rs . 1100  रूपए हमारे एकाउंट में डालकर पूछ सकते हैं एक ही पत्री के विषय में अपने कोई तीन प्रश्न !

डॉ.शेष नारायण वाजपेयी SBI-10152713661 
शाखा -दिल्ली कृष्णानगर IFSC:SBIN0001573 


  Then you should pay making charge - 1100 Rs Dr.S.N.Vajpayee Account- SBI-10152713661 Branch-Delhi Krishna nagar  IFSC:SBIN0001573
फ़ोन नंबर - 011, 22002689 ,09811226973 किसी भी शंका समाधान के लिए काल करें -
   विशेष प्रश्नों की विशेष सेवा शुल्क जानने के लिए खोलें  यह लिंक - see more....http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/05/blog-post_18.html
   भाग्य बदलने के नाम पर हो रहे भारी भ्रष्टाचार को समाप्त करने की सशक्त पहल को सफल बनाने में आप भी सहयोग करें !
      कुछ जरूरी बातें -

      हम भाग्य बदलने के लिए सौदा सामान बेचने से ज्यादा उसका मंत्र जप और भगवान की प्रार्थना पर भरोसा करते हैं !हमारे यहाँ केवल फीस लगती है वो भी आपकी कुंडली बनाने और आपके प्रश्न का उत्तर खोजने का पारिश्रमिक !बाक़ी आपका  खर्च नहीं हैं हमारे पास !हमारा काम ज्योतिष से कमाना नहीं अपितु ज्योतिष के प्रति समाज को जगाना है !
     बंधुओ !भ्रष्टाचार जब सब जगह है तो ज्योतिष का क्षेत्र इससे अछूता कैसे रह सकता है!इसलिए  ज्योतिष के विषय में धोखाधड़ी करने वालों से समाज को बचाना एवं ज्योतिष संबंधी ईमानदार सेवाएँ उपलब्ध करवाना हमारा संकल्प है !इसमें हमें चाहिए आपका साथ मेरा आपसे निवेदन है कि आप स्वयं जुड़ें औरों को भी जोड़ें और सबका रुख ज्योतिष के क्षेत्र में भ्रष्टाचार बंद करवाने की ओर मोड़ें !ज्योतिष संबंधी भ्रष्टाचार का विरोध करने हेतु जनजागरण में हमें चाहिए आपका साथ -
  बंधुओ!ज्योतिष के नाम पर ठगने वाले 99 प्रतिशत वो लोग हैं जिन्होंने ज्योतिषपढ़ी ही नहीं है जिनके  पास ज्योतिष संबंधी एजुकेशन के कोई डिग्री प्रमाणपत्र नहीं होते किसी सरकारी विश्व विद्यालय के ज्योतिष डिपार्टमेंट के रिकॉर्ड में जिनका नाम नहीं होता ,जिनके विज्ञापन या प्रोफाइल में उनकी ज्योतिष सब्जेक्ट संबंधी डिग्रियों का जिक्र तक नहीं होता !ऐसे लोगों से भविष्य मत पूछिए इनकी धोखाधड़ी से बचो !
  बंधुओ !जिनके पास ज्योतिष डिग्रियाँ हों फिर भी उनकी योग्यता पर यदि आपको शक हो तो RTI से उनके
सही और गलत होने का पता कर लीजिए !अनपढ़ डॉक्टरों से यदि आप आपरेशन नहीं करवाते हैं तो अनपढ़ ज्योतिषियों से भविष्य क्यों पूछते हैं ?

    अब आप जानिए हमारी भी ज्योतिष शिक्षा के विषय में जानिए खोलिए यह लिंक -http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/p/blog-page_7811.html   

 हमारी ज्योतिष संबंधी सेवाओं से संबंधित सूचना -      
         बंधुओ !आपके द्वारा हमारे पास भेजे गए ''डेटआफबर्थ' से कैसे खोजा जाता है आपका भविष्य या आपकी समस्याओं का समाधान या आपके प्रश्नों का उत्तर !आप भी जानिए -
    चूँकि कंप्यूटर से बनी हुई कुंडलियों से केवल काम चलाया जा सकता है सच नहीं जाना जा सकता इसलिए आपके दिए हुए ''डेटआफबर्थ' से आपका भविष्य या आपके प्रश्न का उत्तर जानने के लिए आपके जन्मवाले वर्ष के पंचांग से कुंडली बनानी होती है जिसमें विद्वानों का  काफी समय और परिश्रम लगता है ।
    कुंडली बन जाने के बाद आपके प्रश्न का उत्तर या भविष्य जानने के लिए आपकी कुंडली का गहराई पूर्वक अध्ययन करके खोजना होता है आपकी समस्याओं का कारण और वैदिक ग्रंथों में कहे गए उनके उपाय !जिनसे उन समस्याओं का समाधान होता है!ऐसे विद्वानों के द्वारा दी जा रही उत्तम और दुर्लभ सेवाओं का लाभ लेना चाहिए ।   

   आप सभी से हमारा विनम्र निवेदन है कि इसे आप जरूर पढ़ें और जानें कि हम ज्योतिष और वास्तु की फ्री सेवाएँ क्यों नहीं दे पाते हैं आपको  -  
  बंधुओ !ज्योतिष एवं वास्तु संबंधी सेवाओं के नाम पर आज इतना अधिक भ्रष्टाचार है कि इस क्षेत्र में सच और झूठ का अन्तर कर पाना  कठिन ही नहीं बिलकुल असंभव होता जा रहा है !बेरोजगारी से पीड़ित ज्योतिषियों में   99 प्रतिशत से भी अधिक ऐसे लोग हैं जिन्होंने ज्योतिष पढ़ी ही नहीं है आप अपने आस पास के किसी ज्योतिषी से उसकी ज्योतिष सब्जेक्ट की डिग्री प्रमाणपत्र माँगिए नहीं मिलेंगे उनके पास जबकि सरकारी विश्व विद्यालयों में ज्योतिष डिपार्टमेंट है ज्योतिष का श्लेबस है और अन्य सभी विषयों की तरह ही ज्योतिषी की भी कक्षाएँ परीक्षाएँ डिग्री प्रमाणपत्र आदि सब कुछ सामान्य विषयों की तरह ही होते हैं किंतु जिनके पास नहीं हैं और वो अपने को ज्योतिषी कहते हैं उन्हें क्या कहेंगे आप !ऐसे लोग बहम  डालकर ,झूठ बोलकर,नग नगीने यंत्र तंत्र ताबीज कवच मणि आदि बेचकर  या अंधविश्वास फैलाकर समाज से केवल पैसे नोच रहे हैं ज्योतिष से उनका कोई लेना देना नहीं होता है कंप्यूटर से बनी कुंडलियाँ उतनी सही नहीं होती हैं किंतु यदि इन्हें पता भी हो तो अगर ये बना नहीं पाते हैं तो कुण्डलियाँ बनाएँ कैसे दूसरी बात जब ये कुंडली देखना ही नहीं जानते तो कुंडलियाँ सही या गलत होने का अर्थ ही इनके लिए क्या है ! ग्रहों की शांति के लिए 'ग्रहशान्ति' नामक  ग्रहों के मन्त्रों की एक कठिन किताब है इसे न पढ़ सकने के कारण उपाय बताने के नाम पर ये तमाम ऊट पटांग बकवास बताया करते हैं जिसका शास्त्रों से दूर दूर तक कहीं कोई लेना देना नहीं होता है इसी प्रकार पंचांग से कुंडली बनाना जिन्हें नहीं आता है उन बेचारों को ये पता ही नहीं होता है कि कंप्यूटर से बनी कुंडलियाँ एक्यूरेट नहीं होती हैं इस लिए वे कंप्यूटर खोलकर रख लेते हैं और भविष्य या राशिफल बताने के नाम पर जो मुख में आता है सो बकते चले जाते हैं इन्हें कोई पैसे दे या न दे क्योंकि इनका मुख्यउद्देश्य नग नगीने आदि बेचना होता है किंतु इन सब बातों का ज्योतिष शास्त्र से कोई लेना देना नहीं होता !


     बंधुओ !ज्योतिष सब्जेक्ट से इतने क्वॉलिफाइड एम.ए.पीएचडी किए ज्योतिष वैज्ञानिकों का पारिश्रमिक चुकाए बिना उनसे फ्री सेवा की आशा नहीं की जानी चाहिए आखिर उनके भी अपने परिवार और जिम्मेदारियाँ  होती हैं seemore.... http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/p/blog-page_7811.html

    इतना अवश्य है कि हमारे यहाँ नग नगीने यंत्र तंत्र ताबीजों के तमाशे नहीं किए जाते !बिना खर्च वाले सरल उपाय बताए जाते हैं जो आपको स्वयं करने होते हैं ! आपके लिए परिश्रम करने वाले विद्वानों को उचित पारिश्रमिक देना हमारा धर्म है इस व्रत का पालन हमें करना ही होता है !वैसे भी ज्योतिषशास्त्र में सरकारी विश्व विद्यालयों से MA,Ph.D आदि किए हुए योग्य विद्वानों की तुलना फर्जी या झोलाछाप ज्योतिषियों से कैसे की जा  सकती है !
 ज्योतिष एवं वास्तु संबंधी सभी कार्यों एवं ज्योतिष काउंसलिंग सुविधा के लिए -पढ़ें यह लेख और करें संपर्क ! ज्योतिष जन जागरण करने ,अंधविश्वास मिटाने एवं सभी को ईमानदारी पूर्वक ज्योतिष शास्त्रीय सेवाएँ प्रदान करने के लिए सभी भाई बहनों से विनम्रनिवेदन -
  "आप हमारे यहाँ से ज्योतिष सेवाएँ लें या न लें वो आपकी इच्छा किंतु ज्योतिष और ज्योतिषियों की सच्चाई समझने के लिए एवं ज्योतिष में क्या सही है क्या गलत यह जानने के लिए इस लेख को एक बार अवश्य पढ़ें !"
शिक्षित और अशिक्षित ज्योतिषियों की पहचान कैसे हो ?see more... http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/05/blog-post_20.html
  
आवश्यक -चूँकि कंप्यूटर से बनी हुई कुंडली पूर्णतया सच नहीं होती हैं अतएव  उनसे काम तो चलाया जा सकता है बाकी किसी परिस्थिति विशेष का सही सही आकलन करने के लिए पंचांग पद्धति से बनाई गई कुंडली ही अधिक प्रमाणित होती है । 
 पंचांग पद्धति से बनी कुंडली- जो लोग बिना कंप्यूटर के पंचांग पद्धति से कुंडली बनवाना चाहें उन्हें Rs.5100 जमा करके कुंडली बनवाने के लिए अपनी डेट आफ बर्थ भेजनी होगी !जिसके बनने में करीब दस से पंद्रह दिन लग सकते हैं ।
   यदि जन्म समय आपको सही सही याद न हो - 
    यदि आपको लगे कि आपका जन्म समय दस मिनट तक आगे पीछे हो सकता है अर्थात पाँच मिनट आगे और पाँच मिनट पीछे तो उसे ठीक करने के लिए Rs. 500 (पाँच सौ रूपए) अलग से जमा करवाने होते हैं।इस प्रकार से यह अंतर जितने दस मिनट का होगा उतने 500 रूपए अतिरिक्त जमा करने होंगे।    साथ ही अपने शरीर के कोई तीन चिन्ह अथवा बीते जीवन की कोई तीन घटनाएँ बतानी होंगी जिन्हें मिलाकर कुंडली बनाने से जन्मपत्री में गलती रह जाने की गुंजाइस समाप्त हो जाती है।
        इसी विषय में देखें ये दो लेख भी -
  यदि जन्म समय सही सही न पता हो तो भी सही कुंडली बनाई जा सकती है क्या ?see more...http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/03/blog-post_8.html  
जिसको अपने जन्म के बारे में कुछ भी पता न हो वो ज्योतिष का लाभ कैसे लें !see more...http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/03/blog-post_82.html
फ्री ज्योतिष सेवाओं के नाम पर धोखाधड़ी से बचें ! लालच बुरी बला !!see more... http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/05/blog-post_26.html


सब लोग पंचांग पद्धति से  ही कुंडलियाँ क्यों नहीं बनवाते हैं ? 
   पंचांग पद्धति से कुंडली बनाने की प्रक्रिया अत्यंत कठिन होती है जिसे पढ़े लिखे लोग ही बना पाते हैं।अन्यथा कई पंडित पुजारी तो कंप्यूटर की बनी कुंडली ही हाथ से लिख देते हैं जो गलत है,इसीलिए  जिन्होंने किसी सरकारी संस्कृत विश्व विद्यालय से ज्योतिष सब्जेक्ट में कोई योग्यता और ज्योतिष डिग्री हासिल नहीं की है ऐसे लोग या अन्य बिना पढ़े लिखे पंडित पुजारी लोगों के द्वारा बनाई गई कुंडलियों या बताई गई बातों में ज्योतिष शास्त्र का समर्थन नहीं माना जाना चाहिए ।
    कंप्यूटर से बनी कुंडलियों का प्रचलन बढ़ा क्यों ?
     कुछ नग नगीनों के व्यापारियों या तरह तरह के मनगढंत कवच ,यंत्र तंत्र ताबीज विक्रेताओं ने अपना चीज सामान बेचने के लिए डेट आफ बर्थ लेकर कंप्यूटर में डाला या नहीं किंतु भविष्य बताने के नाम पर कुछ झूठ साँच बका सो बका इसके बाद बेचने लगते हैं नग नगीना कवच ,यंत्र तंत्र ताबीज  आदि किंतु ये उनके द्वारा बनाई गई उनकी मनगढंत आर्टिफीशियल भाग्य सामग्री के विक्रय का विज्ञापन मात्र होता है और विज्ञापनों में कही गई बातें सच से कोसों दूर होती हैं ऐसे लोगों के पास न कोई डिग्री होती हैं  प्रमाण पत्र किंतु दावे बड़े बड़े होते हैं ऐसे स्वयंभू लोगों का ज्योतिष शास्त्र से कोई सम्बन्ध नहीं होता है । 

     संपर्क- 011-22002689, मो. 9811226973, Email - shastrvigyan@gmail.com    ज्योतिषशास्त्र किसके लिए विज्ञान है और किसके लिए अंध विश्वास ?जानिए-see more... http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/05/blog-post_31.html

  •  ज्योतिष और चिकित्सा दोनों की ही शिक्षा प्रक्रिया जब एक जैसी है तो फिर एक विज्ञान और दूसरा अंधविश्वास कैसे?see more... http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2014/07/blog-post_17.html 
ज्योतिष विद्वानों से लाभ अपने आप से नहीं होता अपितु उठाना होता है
     इसके लिए ज्योतिष विद्या पर अपने  मन की श्रद्धा एवं  अपने हृदय में ज्योतिष विज्ञान  के प्रति अटूट विश्वास होना चाहिए!
  • ज्योतिष वैज्ञानिक को उसकी योग्यता के हिसाब से धन देना चाहिए ।
  •  अपने काम के लिए किए गए परिश्रम के हिसाब से धन देना चाहिए 
  •  एवं आपके जीवन में आपका काम जितना अधिक महत्त्वपूर्ण हो !
  • आपका काम बनने से संभावित लाभ एवं बिगड़ने से संभावित हानि को ध्यान में रखते हुए ज्योतिषी को धन देना चाहिए । 
    केवल ज्योतिषी की ईमानदारी या योग्यता के भरोसे रहना ठीक नहीं होगा !क्योंकि आपकी कंजूसी ज्योतिषी के उचित कर्तव्य पालन में बाधक बनती है वो चाहते हुए भी आपकी आवश्यकताओं के हिसाब से परिश्रम नहीं कर पाता है जिससे ज्योतिषी का क्या बिगड़ेगा जो आपसे लाभ होता है अधिक से अधिक वो नहीं होगा किंतु आपका कितना नुक्सान हो सकता है ये आपको ही पता होगा !बनावटी श्रद्धा प्रदर्शित करने से या गिड़गिड़ाने से कोई उपहार आदि देने से कोई लाभ नहीं होगा क्योंकि ज्योतिषी को पता होता है कि जिस दिन इसका काम हो जाएगा उसके बाद ये मिलेगा नहीं ! ऐसी आम धारणा है । 

    नोट -हमारे यहाँ नग नगीना यंत्र तंत्र ताबीजों का व्यापार नहीं होता और न ही उसके कमीशन का काम !हम पारदर्शिता के सिद्धांतों से बँधे हैं !ज्योतिष के द्वारा क्या पता लग सकता है क्या नहीं एवं इसमें क्या सच है क्या झूठ यह जानने के लिए यह जानने के लिए पढ़ें हमारे ये लेख  और जुड़ें हमारे ज्योतिष जन जागरण अभियान से -
 
यदि जन्म समय सही सही न पता हो तो भी सही कुंडली बनाई जा सकती है क्या ?see more... http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/03/blog-post_8.html  
 
जिसको अपने जन्म के बारे में कुछ भी पता न हो वो ज्योतिष का लाभ कैसे लें !see more... http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/03/blog-post_82.html
 
भूत प्रेत तंत्र मंत्र आदि मानना चाहिए या नहीं ?see  more...http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/03/blog-post_78.html
 
हमारे घर में कोई वास्तु दोष है या नहीं इसका पता हम स्वयं कैसे लगा सकते हैं ?see more... http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/03/blog-post_39.html
 
तलाक अर्थात विवाहविच्छेद की संभावना बन गई हो तो उसे टालने के लिए क्या करें ?see more... http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/03/blog-post_24.html 
 
किसी बीमारी का इलाज तो किसी डॉक्टर के पास होगा उसमें कोई ज्योतिष वैज्ञानिक कैसे और कितनी मदद कर सकता है ?see more... http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/03/blog-post_88.html  
प्रेमी जोड़ों को प्रेम करने के लिए भी ज्योतिष मिलान देखना चाहिए क्या ?see more... http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/03/blog-post_52.html 
 
नौकरी या व्यापार में जो लोग अक्सर असफल होते रहते हैं उसका कारण भी ज्योतिष में छिपा है क्या ?see more... http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/03/blog-post_40.html 
 
शिक्षा तो हर किसी के लिए आवश्यक है फिर उसमें ज्योतिष का क्या काम !see more... http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/03/blog-post_98.html 
 
क्या जिसको संतान न हो डॉक्टरों ने भी मना कर दिया हो फिर भी ज्योतिष से हो सकती है संतान की कोई संभावना क्या ?see more... http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/03/blog-post_43.html 
 
मनोरोग (mental health) अर्थात मनोरोगियों के लिए ज्योतिष किसी वरदान से कम नहीं है किन्तु कैसे ? see more... http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2014/11/blog-post.html 
 
जन्म नाम के अलावा पुकारने वाले नाम को भी ज्योतिष के आधार पर रखना चाहिए क्या ?see more...http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/03/blog-post_60.html 
 
राशिफल और प्लेयिंग कार्ड जैसी बातों में भी कोई सच्चाई होती है क्या ? see more...http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/03/blog-post_71.html
ग्रहों के उपायों के नाम पर वेद मंत्रों के जप की जगह कैसे कैसे पाखंड करवाए जाते हैं !see more...http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/03/blog-post_58.html
 
ज्योतिष और भ्रम आखिर क्या सच है क्या झूठ ?see more.....http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2014/05/blog-post_31.html
ज्योतिष एवं उपायों की क्या है सच्चाई ?और क्यों भ्रमित किया जा रहा समाज ! आप भी समझिए !see more...http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/03/blog-post_45.html
नग नगीने यंत्र तंत्र ताबीजों एवं कवच मणि व्यापारियों को कृपया ज्योतिषी न कहें पढ़े लिखे ज्योतिषी इतना कभी नहीं गिर सकते ! नगनगीनों यंत्र तंत्र ताबीजों से भाग्य बदलना संभव है क्या ?भाग्य के व्यापार में सबसे बड़ा भ्रष्टाचार !जानिए कैसे !! see more...http://jyotishvigyananusandhan.blogspot.in/2015/03/blog-post_13.html


  

No comments:

Post a Comment